Haryana

Haryana: अपहरणकर्ता पर भारी पड़ी बहादुर बच्ची, हाथ पर दांत से काट छुड़ाया, शोर मचाकर पकड़वाया


बहादुर बेटी संजना परोचा। उठाने का प्रयास करने वाला आरोपी।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

हरियाणा के करनाल में नौ साल की एक बहादुर बच्ची अपहरणकर्ता पर भारी पड़ गई। बच्ची ने साहस दिखाते हुए जहां आरोपी के चंगुल से खुद को छुड़ा लिया, वहीं शोर मचाकर उसे पकड़वा भी दिया। उसकी इस बहादुरी को हर कोई सलाम कर रहा है। 

चिड़ाव गांव की रहने वाली संजना परोचा गांव के ही सरकारी स्कूल में कक्षा चार की छात्रा है। परिजनों ने बताया कि सोमवार की शाम करीब छह बजे संजना पास की दुकान पर सामान लेने गई थी। इसी दौरान मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर और वर्तमान में जुंडला निवासी आरोपी श्रवण (35) उसके पीछे-पीछे चलने लगा।

कुछ दूर पहुंचने के बाद वह बच्ची को रास्ते में रोक  कर जुंडला गांव का पता पूछने लगा। इसी दौरान आरोपी ने अपहरण करने की नीयत से बच्ची के ऊपर कंबल डाल दिया। बच्ची ने साहस दिखाते हुए खुद को छुड़ाने का बहुत प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हुई। इसके बाद बच्ची ने आरोपी के हाथ पर दांत से काटकर छुड़ा लिया और शोर मचा दिया। 

शोर सुनकर उसके ताऊ उस तरफ दौड़ पड़े और मौके से भाग रहे आरोपी को दबोच लिया। इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने उसकी जमकर धुनाई की फिर 112 नंबर पर सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जानकारी ली और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

परिजनों ने आरोपी के खिलाफ सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। परिजनों ने बताया कि आरोपी बच्ची को उठाकर ले जाने का प्रयास कर रहा था जिसे उन्होंने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। उन्होंने कहा कि आरोपी बच्चे चुराने वाला भी हो सकता है। पुलिस के अनुसार आरोपी जुंडला में अपने परिवार के साथ रहकर मजदूरी का काम करता है। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। 
 
पर्यावरण संरक्षण के लिए करती है जागरूक
बच्ची के पिता बिंदु ने बताया कि उसकी बेटी अक्सर पौधारोपण अभियान में हिस्सा लेती है। स्कूल हो या गांव जब भी कहीं पौधे लगाने का कार्यक्रम आयोजित होता है वह वहां पहुंच जाती है और खुद भी पौधारोपण करती है। साथ ही वह लोगों को पर्यावरण संरक्षण के लिए भी जागरूक करती है। 

बिहार का रहने वाला है आरोपी 
सदर थाना एसएचओ मनोज वर्मा ने बताया कि आरोपी श्रवण मूलरूप से बिहार के समस्तीपुर का रहने वाला है। आरोपी की उम्र करीब 35 वर्ष है। वह जुंडला में परिवार के साथ रहकर मजदूरी करता है। मौके पर ही लोगों ने आरोपी के पास से बच्ची को बरामद कर लिया। वहीं उसके खिलाफ मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। आरोपी ने पूछताछ में पहले भी इस तरह की किसी वारदात को अंजाम देने का खुलासा नहीं किया है। 

विस्तार

हरियाणा के करनाल में नौ साल की एक बहादुर बच्ची अपहरणकर्ता पर भारी पड़ गई। बच्ची ने साहस दिखाते हुए जहां आरोपी के चंगुल से खुद को छुड़ा लिया, वहीं शोर मचाकर उसे पकड़वा भी दिया। उसकी इस बहादुरी को हर कोई सलाम कर रहा है। 

चिड़ाव गांव की रहने वाली संजना परोचा गांव के ही सरकारी स्कूल में कक्षा चार की छात्रा है। परिजनों ने बताया कि सोमवार की शाम करीब छह बजे संजना पास की दुकान पर सामान लेने गई थी। इसी दौरान मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर और वर्तमान में जुंडला निवासी आरोपी श्रवण (35) उसके पीछे-पीछे चलने लगा।

कुछ दूर पहुंचने के बाद वह बच्ची को रास्ते में रोक  कर जुंडला गांव का पता पूछने लगा। इसी दौरान आरोपी ने अपहरण करने की नीयत से बच्ची के ऊपर कंबल डाल दिया। बच्ची ने साहस दिखाते हुए खुद को छुड़ाने का बहुत प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हुई। इसके बाद बच्ची ने आरोपी के हाथ पर दांत से काटकर छुड़ा लिया और शोर मचा दिया। 

शोर सुनकर उसके ताऊ उस तरफ दौड़ पड़े और मौके से भाग रहे आरोपी को दबोच लिया। इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने उसकी जमकर धुनाई की फिर 112 नंबर पर सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जानकारी ली और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

परिजनों ने आरोपी के खिलाफ सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। परिजनों ने बताया कि आरोपी बच्ची को उठाकर ले जाने का प्रयास कर रहा था जिसे उन्होंने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। उन्होंने कहा कि आरोपी बच्चे चुराने वाला भी हो सकता है। पुलिस के अनुसार आरोपी जुंडला में अपने परिवार के साथ रहकर मजदूरी का काम करता है। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। 

 

पर्यावरण संरक्षण के लिए करती है जागरूक

बच्ची के पिता बिंदु ने बताया कि उसकी बेटी अक्सर पौधारोपण अभियान में हिस्सा लेती है। स्कूल हो या गांव जब भी कहीं पौधे लगाने का कार्यक्रम आयोजित होता है वह वहां पहुंच जाती है और खुद भी पौधारोपण करती है। साथ ही वह लोगों को पर्यावरण संरक्षण के लिए भी जागरूक करती है। 

बिहार का रहने वाला है आरोपी 

सदर थाना एसएचओ मनोज वर्मा ने बताया कि आरोपी श्रवण मूलरूप से बिहार के समस्तीपुर का रहने वाला है। आरोपी की उम्र करीब 35 वर्ष है। वह जुंडला में परिवार के साथ रहकर मजदूरी करता है। मौके पर ही लोगों ने आरोपी के पास से बच्ची को बरामद कर लिया। वहीं उसके खिलाफ मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। आरोपी ने पूछताछ में पहले भी इस तरह की किसी वारदात को अंजाम देने का खुलासा नहीं किया है। 




Source link

Related Articles

Back to top button