Haryana

साजिश या कुछ और:: बीजेपी के पूर्व पार्षद व व्यापारी के नाम से सीबीएसई बोर्ड में स्कूलों के फर्जी होने की कर दी शिकायत, मान्यता रद्द करने की मांग

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • Complaint Made In The Name Of Former Councilor And Businessman About Fake Schools In CBSE Board, Demand For Cancellation Of Recognition

फरीदाबाद4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इस शिकायत के जरिए बदनाम करने की बताया साजिश, फर्जी तरीके से नाम लिखने पर कार्रवाई की मांग

बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व निगम पार्षद ओम प्रकाश रक्षवाल और एक व्यापारी जीतू शर्मा के नाम से सीबीएसई बोर्ड को पत्र लिखकर शहर में कई फर्जी तरीके से स्कूल चलाने का आरोप लगाया है और उसकी मान्यता रद्द करने की मांग की है। मामला सामने आने पर रक्षवाल और व्यापारी ने इस मामले की पुलिस जांच कराने और ऐसी गंदी हरकत करने वाले व्यक्ति की तलाश कर कार्रवाई करने की मांग की है। दोनों लोगों का कहना है कि उन्होंने किसी स्कूल की कोई शिकायत कहीं नहीं की है। बदनाम करने की नियत से किसी ने ऐसी घटिया हरकत की है।

दरअसल सेहतपुर निवासी एवं पूर्व पार्षद ओम प्रकाश रक्षवाल और व्यापारी जीतू शर्मा के नाम से किसी ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड प्रीत विहार दिल्ली को शिकायत भेजकर आरोप लगाया है कि सेहतपुर, विनयनगर अगवानपुर, काजीरोड एनआईटी, जवाहर कॉलोनी और डबुआ कॉलोनी में पांच स्कूलों ने फर्जी कागजात के आधार पर सीबीएसई बोर्ड की मान्यता हासिल कर स्कूल चला रहे हैं। यह स्कूल बोर्ड की मान्यता की शर्ताें का पालन नहीं करते। यह सभी स्कूल 1000-1200 वर्गगज की जमीन पर चल रहे हैं। इन स्कूलों में साइंस लैब, कम्प्यूटर लैब, खेल ग्रांउड और पुस्तकालय तक नहीं है। ऐसे में इन सभी की मान्यता रद्द करनी चाहिए। पूर्व पार्षद ओम प्रकाश रक्षवाल और व्यापारी जीतू शर्मा ने कहा कि उन्होंने आज तक किसी स्कूल के बारे में कोई शिकायत की नहीं की। स्कूल से कोई लेना देना तक नहीं है। किसी ने साजिशन बदनाम करने की नियत से ऐसी हरकत की है। शिक्षा विभाग और जिला प्रशासन को इसकी जांच करनी चाहिए और जिसने भी फर्जी तरीके उनके नाम शिकायतकर्ता के रूप में दर्शाया है उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button