Haryana

बाल श्रमिक पुनर्वास केंद्र से भागा बच्चा: दो दिन पहले दुकान से किया था रेस्क्यू, परिजनों ने भी रखने से किया था मना

पानीपत16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पानीपत शिव नगर स्थित बाल श्रमिक पुनर्वास केंद्र, जहां से भागा बच्चा।

हरियाणा के पानीपत जिले के शिव नगर स्थित बाल श्रमिक पुनर्वास केंद्र से एक बच्चा भाग निकला। बच्चे को दो दिन पहले ही CWC टीम ने दुकान से रेस्क्यू किया था। बच्चा केंद्र के शौचालय में लघुशंका करने के बहाने गया था और दीवार फांद कर भाग गया। मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामले की गंभीरता को देखते हुए आईपीसी की धारा 365 के तहत केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू किया।

शौचालय का दरवाजा खटखटाया, मगर नहीं मिला कोई जवाब
चांदनीबाग थाना पुलिस को दी शिकायत में शिव नगर स्थित बाल श्रमिक पुनर्वास केंद्र प्रभारी मनोज ने बताया कि 23 मई को केंद्र पर CWC की ओर से बाल मजदूरी के संदेह में एक बच्चा छोड़ा गया था। जिसका नाम हर्षदीप निवासी रजापुर उम्र 18 साल है।

26 मई की दोपहर करीब ढाई बजे वह सेंटर के शौचालय में लघुशंका करने गया था। उसके साथ दो अन्य लोग निगरानी में भेजे थे। कुछ देर बाद तक भी जब वह शौचालय से बाहर नहीं आया तो दरवाजा खटखटाया गया। मगर भीतर से कोई आवाज नहीं आई।

अंदर किसी तरह की हलचल न होती देख दरवाजे को किसी तरह खोला गया। दरवाजा खोलने पर देखा कि वह भीतर नहीं था। जांच के दौरान पता लगा कि वह शौचालय की दीवार फांद कर बाहर गली में कूद गया और वहां से फरार हो गया।

वेल्डिंग की दुकान पर करता था काम
सेंटर संचालक मनोज ने बताया कि हर्षदीप एक वेल्डिंग की दुकान पर काम करता था। जिसे वहां से रेस्क्यू करने के बाद उसके परिजनों से भी संपर्क साधा गया। मगर उसके परिजनों ने उसे रखने से मना कर दिया। जिस वजह बच्चे को पुनर्वास केंद्र लाया गया था।

यहां लाने के बाद भी बच्चे के परिजनों से बार-बार उसे ले जाने के बारे में कहा था, मगर किन्हीं कारणों के चलते परिजनों ने ले जाने से मना कर दिया। मनोज का कहना है कि शायद बच्चे के दिमाग में यही बात द्यर कर गई हो कि उसे उसके ही परिवार के लोग नहीं रख रहे हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button