Haryana

नई व्यवस्था: 20 मिनट में जिले मेें कहीं भी मिलेगी एंबुलेंस, कैटेगरी वाइज रेट हुए तय

सोनीपत3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • हादसे में तुरंत इलाज के लिए ट्रामा सेंटर की तर्ज पर तैयारी

जिले में कहीं भी एक्सीडेंट होने पर अब 20 मिनट में एंबुलेंस मिलेगी। इसकी लाइव लोकेशन भी आप कहीं से भी देख पाएंगे। सभी एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम इंस्टॉल किया जाएगा। जीटी रोड व अन्य जगह हादसों को देखते हुए सिविल अस्पताल में ट्रॉमा सेेंटर की तर्ज पर सेवाएं मुहैया कराई जाएंगी। गोल्डेन ऑवर में सिविल अस्पताल प्रबंधन यह सुविधा मुहैया कराएगा।

रोड सेफ्टी की मीटिंग में पिछले दिनों सिविल अस्पताल प्रबंधन ने यह जानकारी दी। इमरजेंसी विंग में 24 घंटे सातों दिन की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इसके तहत स्टेट हाइवे से लेकर जीटी रोड पर एंबुलेंस को तैनात किया जाएगा।

कोरोना संक्रमण के दौरान एंबुलेंस चालकों द्वारा कई गुना तक भाड़ा वसूलने का मामला सामने आया। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि रेट बहुत कम है, जिसकी वजह से नुकसान हो रहा है। प्रशासन ने करीब एक पखवाड़े पहले रेट संशोधित किया था। इससे भी एंबुलेंस चालक संतुष्ट नहीं हुए। जिसके बाद कमेटी के समक्ष सभी ने बातें रखी।

जिसे मानते हुए प्रशासन ने दोबारा से रेट जारी कर गाइड लाइन भी जारी की है। जिसके अनुसार परिचालन करना होगा। निगरानी के लिए आरटीए अधिकारियों की ड्यूटी और कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है।

24 सरकारी एंबुलेंस हैं
जिले में 24 सरकारी एंबुलेंस हैं। जिसमें 13 एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम है। बाकी में जल्द लग जाएगा। इससे उनको सबकी लोकेशन मिलती रहेगी। वहीं दूसरी 35 प्राइवेट एंबुलेंस है। इन सभी जीपीएस सिस्टम इंस्टाल किया गया है। कैटेगरी वाइज सबके रेट फिक्स हैं।

लोगों को बेहतर सेवाएं देने का प्रयास है
^जिले वासियों को बेहतर सेवाएं देने के लिए प्रयास किया जा रहा है। गोल्डेन ऑवर में एंबुलेंस की उपलब्धता बहुत आवश्यक है। जिसके तहत सभी एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम लगवाने का निर्देश दिया गया है। – मानव मलिक, डीटीओ आरटीए सोनीपत।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button