Haryana

ईश्क में हत्या का मामला: जहर के प्रभाव से हुई थी विकास की मौत, जुराब में मिला चार पेज का सुसाईड नोट, हत्या या आत्महत्या की होगी जांच

हिसारएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

खेतों में पड़ा विकास का शव

मालिक की भतीजी के साथ ईश्क लड़ा रहे मुनीम के शव का पोस्टमार्टम हिसार के नागरिक अस्पताल में किया गया। पोस्टमार्टम से खुलासा हुआ है कि विकास की मौत जहर निगलने से हुई है और उसके शरीर पर कोई चोट का निशान भी नहीं मिला है। इसके अलावा मृतक विकास के पास से चार पेज का सुसाइड नोट भी मिला है जो उसने अपनी जुराबों में डाला हुआ था। सुसाईड नोट में विकास ने प्यार में जान देने की बात लिखी है। पोस्टमार्टम करने वाली टीम ने विसरा लेकर जांच के लिए मधुबन लैब भेज दिया है। विकास को जहर दिया गया था या उसने खुद निगला है, यह एक जांच का विषय है। इसके अलावा उसके पास मिले सुसाइड नोट को भी हेंडराइटिंग एक्सपर्ट से जांच के बाद भी उसकी भी सच्चाई का पता किया जाएगा।

उकलाना थाना प्रभारी मोहर सिंह ने बताया कि जिस खेत में विकास का शव मिला था, वहां से करीब 100 मीटर दूरी पर खेत में बने कमरे की छत से विकास का फोन भी बरामद हुआ है। आशंका जताई जा रही है कि विकास पिछले कई दिनों से अपनी प्रेमिका के घर के आसपास की मंडरा रहा था और वहीं खेतों में छुपकर रह रहा था। गौरतलब है कि बुधवार को बुढ़ाखेड़ा की ढाणियों में फतेहाबाद जिले के सनियाणा गांव निवासी राजू का शव ढाणियों में मिला था। मृतक विकास के भाई विक्रांत ने आनर किलिग का आरोप लगाते हुए युवती के स्वजनों पर हत्या का केस दर्ज करवाया था। विक्रात उर्फ विक्की ने पुलिस को बताया था कि विकास उग्रसेन के पास मुनीम का काम करता था। वहां उग्रसेन के परिवार से एक लड़की से उसकी बातचीत हुई थी। दोनों शादी करना चाहते थे। ये बात लड़की के घरवालों को पता चल गई। इस दौरान राजू 10-12 दिन से घर नहीं आया था। बुधवार सुबह राजू का शव खेत में मिला था। विक्रांत ने उग्रसेन बिश्नोई, उसके भाई बंसी व लड़की के पिता राधेश्याम व राधेश्याम के बेटे पर हत्या करके शव को नरमा के खेत में फेंकने का आरोप लगाया था। पुलिस ने हत्या सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया था।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button